What Is Blogger? All Useful Information About Free Blogging Platform in Hindi

ब्लॉक्स्पॉट एक ऐसा ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म है जो कहीं सारे लोगों का बहुत ही पसंदीदा और लोकप्रिय प्लेटफार्म है जिसको गूगल द्वारा बनाया गया है और पहली बार इसको 2003 में लांच किया गया था. 2003 से ही यह पूरा प्लेटफार्म फ्री है जिसका उपयोग दुनिया में कोई भी आदमी कर सकता है और इसके लिए बस आपको गूगल में अपना एक अकाउंट बनाना है जिससे कि आप यह ब्लॉक को एक्सेस कर सके.

Also Read- What Is a VPN in Hindi

What is Blog-spot and Is it Totally Free

अब इसकी खास बात यह है कि अगर आपके पास डोमेन खरीदने की भी पैसे नहीं है तो गूगल आपको एक फ्री में डोमेन मुहैया करवाएगा जिसके जरिए दुनिया में कहीं से भी आपकी वेबसाइट आसानी से कोई भी आदमी खोल सकता है. और यह बहुत ही सरल और सटीक तरीका है जिसके जरिए आप कुछ ही घंटों में अपनी वेबसाइट को आसानी से इंटरनेट पे छोड़ सकते हैं. और लाखों लोग आज ब्लॉक को पढ़ना पसंद करते हैं जिसके जरिए उनको अपनी मन पसंदीदा जानकारी जानने को मिल जाती है.

 चलिए तो अब आपको इसकी सामान्य माहिती तो मिल गई होगी, लेकिन आगे हम देखते हैं यह कैसे काम करता है और आप को इस से क्या-क्या फायदे हो सकते हैं. लेकिन एक बात आपको जरूर ध्यान में रखनी है कि अगर आपने सिर्फ ब्लॉग बना कर छोड़ दिया तो उसका कोई फायदा नहीं है वह लाखों वेबसाइट की तरह ऐसे ही इंटरनेट में पड़ा होगा जिसका उपयोग कोई नहीं कर रहा होगा और थोड़े वर्षों बाद ऑटोमेटिक ही बंद हो जाएगा क्योंकि उसको कोई अपडेट नहीं कर रहा है.

आपको ब्लॉक बनाकर उसमें ऐसा कंटेंट डालना है जो लोग पढ़ना पसंद करें और उससे लोगों को जो जानना है उसकी पूरी इंफॉर्मेशन मिल जाए. अगर आप का मुख्य इरादा यही है  तो बेशक आप एक अच्छे ब्लॉगर बन सकते हैं जिसको पढ़ने के लिए लाखों लोग इंटरेस्ट दिखाएंगे.

अगर आप ब्लॉक्सपोर्ट के जरिए अपना ब्लॉक बनाते हैं तो आपको डोमेन खरीदने की भी जरूरत नहीं है क्योंकि गूगल आपको फ्री में डोमेन प्रोवाइड करवाएगा जिसे हम पूरी तरह से तो डोमेन नहीं बोल सकते क्योंकि यह 1 शब्दों में इनकी तरह काम करता है. अब इसमें आप अपना जो भी ब्लॉक का नाम रखेंगे उसके पीछे blogsport.com लग जाएगा. और अगर आपको यह नहीं करना तो आपको अपना खुद का डोमेन खरीदना पड़ेगा जिसके लिए शायद आपको 1 साल के लिए 500 से 1000 रुपए तक खर्च करने पड़ सकते हैं.

लेकिन अभी आपको ब्लॉगिंग के बारे में कुछ पता नहीं और आप जस्ट सीखना चाहते हैं तो आप गूगल द्वारा दिए गए फ्री डोमेन का उपयोग करके सीख सकते हैं. जब आपको ब्लॉगिंग के बारे में ज्यादा नॉलेज पता लग जाए या आप सब चीज सीख जाए तब आप अपना खुद का डोमेन लेकर ब्लॉक्स्पॉट को कस्टम डोमेन से कनेक्ट कर सकते हैं या आप वर्डप्रेस को भी उपयोग कर सकते हैं इसके लिए आपको अपना खुद का होस्टिंग खरीदना पड़ेगा.

Also Read- Best VPN Services of 2020 in Hindi

ब्लॉक्स्पॉट जो आपको गूगल द्वारा मिलता है वह किसी भी यूजर को छूट देता है कि आप हर रोज कितनी भी पोस्ट कर सकते हैं जैसे कि मैंने अभी की हुई है जिसको आप पढ़ रहे हैं. ठीक वैसे ही आप ब्लॉक्स्पॉट में भी काम कर सकते हैं. बस फर्क इतना होगा की मेरा Blog अभी वर्डप्रेस में है जिसको कस्टम डोमेन से कनेक्ट किया हुआ है और आपको गूगल द्वारा दिए गए फ्री डोमेन के जरिए अपना Blog चलाना पड़ेगा जो कि आपका इंटरनेट में एक परमानेंट एड्रेस होता है. शायद आपको पता नहीं होगा लेकिन गूगल ने ब्लॉक्सपोर्ट को नहीं बनाया है. पायरा लैब द्वारा लोगों को सन् 2000 के आसपास बनाया गया था जिसके बाद थोड़े वर्षों में गूगल ने इसे टेक ओवर किया और इसमें कई सारे फेरबदल करके इसको एक दुनिया का बेहतरीन ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म बना दिया जो पूरी तरह से फ्री है. 

2004 के आसपास गूगल ने इसे पूरी तरह से डायलॉग कर लिया था और इसमें भारी मात्रा में विशेषताएं ऐड की गई जो वपराज करता को बहुत ही पसंद आई क्योंकि सभी सुविधाएं बहुत अच्छी थी और फ्री में थी. और शायद आपको पता ही होगा अगर कोई भी चीज आपको गूगल द्वारा दी गई है या आप किसी चीज का उपयोग करते हैं जिसने गूगल ने बनाया है तो वह वर्ल्ड क्लास होगी. और मुझे नहीं लगता कि आपको गूगल द्वारा उपयोग में दी जाने वाली कोई भी चीज मैं दिक्कत आए. यही कारण था कि 2012 और 15 तक यह दुनिया का बहुत ही पॉपुलर ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म बन गया था जो कि सभी सुविधाएं फ्री में यूजर को मुहैया करवाता था.

लेकिन क्या आपको पता है कि यह पूरे विश्व में इतना पॉप्युलर क्यों हुआ, मुझे पता है कि आपको यह बात की कोई भी जानकारी नहीं होगी तो चलिए मैं नीचे आपको इसका जवाब दे देता हूं. आपको पता ही होगा कि अगर आपको कोई बोल दे कि आपको अपनी खुद की वेबसाइट तैयार करनी है तो यह कितना मुश्किल काम है. क्योंकि अगर आप एक वेब डेवलपर नहीं है तो आप यह काम नहीं कर सकते. लेकिन गूगल ने यह बात को गलत साबित कर दिया क्योंकि दुनिया में बहुत सारे लोग मौजूद थे जो अपनी कोई भी जानकारी दूसरे लोगों में बांटना चाहते थे जिसके कारण उनको मदद मिले. लेकिन वेबसाइट बनाने का उनको कोई आईडिया नहीं था इसलिए इंटरनेट के माध्यम से इतनी जानकारी ट्रांसफर नहीं हो रही थी. लेकिन अब क्या हुआ कि ब्लॉगिंग जैसे बहुत ही सारे फ्री प्लेटफार्म और पेड़ प्लेटफार्म इंटरनेट पर उपलब्ध हो गए जिसके कारण आपको कोई भी कोडिंग या प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखने की जरूरत नहीं है बस आप ड्रैग एंड ड्रॉप जैसे फीचर से अपना खुद का एक बहुत ही सुंदर वेबसाइट बना सकते हैं. और मुख्य बात यह है कि आप खुद ही ऐसे मैनेज कर सकते हैं जिससे कि आपको किसी और को पैसे देने की या एक्स्ट्रा पैसे खर्च करने की जरूरत नहीं थी. यही कारण था कि यह सभी प्लेटफार्म विश्व में 2015 के बाद बहुत ही पॉपुलर हुए जिसके जरिए उपयोगी जानकारी लोगों तक पहुंच रही थी. लेकिन आपको बता दूं सभी प्लेटफार्म के कुछ फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी है वैसे ही गूगल के द्वारा आप को दिया जाने वाला प्लेटफार्म जिसका नाम ब्लॉक्सपोर्ट है और कहीं लोग इसे ब्लॉगर भी कहते हैं, इसकी कई सारी लिमिटेशंस भी है जिससे कि आप अपना मनचाहा वेबसाइट. अगर आपको सब कुछ एक ही प्लेटफार्म में चाहिए तो आपको वर्डप्रेस पर काम करना होगा जिसमें आपको सभी प्रकार की सुविधाएं मिल जाएगी लेकिन जैसे मैंने कहा कि इसके लिए आपको पैसे खर्च करने पड़ेंगे यह आपको फ्री में नहीं मिलने वाला.

Summary

 यह पोस्ट केवल आपको माहिती देने के लिए था कि हकीकत में फ्री ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म क्या है अगर आप इसमें और सीखना चाहते मैं अपनी खुद की वेबसाइट कैसे बनाऊं तो आप हमारी दूसरी पोस्ट को देख सकते हैं जिसमें ब्लॉकिंग के बारे में कुछ महत्व की जानकारी दी हुई है. और अगर आपके पास खर्च करने के लिए पैसे है और आप साल में तीन चार हजार तक खर्च कर सकते हैं तो मैं आपको सलाह दूंगा कि आप अपना ब्लॉगिंग कैरियर वर्डप्रेस के साथ शुरू करें, और यह पोस्ट पढ़ने के लिए आप सभी लोगों का धन्यवाद.

Leave a Comment